देहरादून के मोहकमपुर निवासी आशीष नौटियाल की शादी का कार्ड जरा हटके है। इस कार्ड में अतिथियों को दो संदेश दिये गये हैं। उन्होंने इस कार्ड में पर्यावरण को बचाने और भोजन की बर्बादी रोकने का संदेश छपवाया है। संदेश दिया गया है कि 'हिमालय बचाओ, पॉलीथीन हटाओ'।
कार्ड में लोगों से अपील की गई है कि शादी में आने वाले सभी अतिथि प्रतिज्ञा लें कि हम दैनिक जीवन में प्लास्टिक का उपयोग नहीं करेंगे। इसके अलावा भोजन को व्यर्थ न करने की भी लोग प्रतिज्ञा लें। इतना ही नहीं आशीष की शादी में भी प्लास्टिक से जुड़ी किसी भी चीज का प्रयोग नहीं किया जाएगा।
आशीष का कहना है कि महसूस हुआ कि लोग शादियों व अन्य मौकों पर प्लास्टिक व पॉलीथीन का अत्याधिक उपयोग करते हैं। पर्यावरण संरक्षण के लिए सबसे पहले इसे बंद करना होगा। भोजन की बर्बादी भी बड़ी समस्या है। भोजन को व्यर्थ करना भी कहीं न कहीं उन लोगों के जीवन का उपहास करना है जिन्हें एक वक्त का भोजन भी नसीब नहीं होता है।
आशीष ने बताया कि उन्होंने शादी में पांच सौ कार्ड छपवाएं हैं। उनके मुताबिक एक परिवार में 5 से 10 लोग रहते हैं इस तरह उन्होंने कहा कि इस छोटी सी कोशिश से 5 से 5000 लोगों तक यह संदेश जा सकता है। शादी के कार्ड में ये संदेश इसलिए दिया क्योंकि जितने लोग आएंगे उनतक अगर बात जाएगी तो शायद लोग एक पहल करें।